नहीं थम रहा जंजैहली विवाद, बर्फबारी के बीच भी प्रदर्शन करते रहे लोग

खबरें अभी तक। हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर के गृहक्षेत्र सराज के जंजैहली में मंगलवार को भी विरोध प्रदर्शन जारी रहा. हालांकि मंगलवार को यहां धारा 144 हटा दी गई थी क्योंकि प्रदर्शनकारियों ने प्रशासन को शांतिपूर्वक प्रदर्शन का भरोसा दिलाया था. हालांकि, दिनभर में ऐसी कोई अप्रिय घटना घटी भी नहीं घटी. लोग अभी तक इस बात पर अड़े हुए हैं कि एसडीएम जंजैहली के कार्यालय को यहीं पर रखा जाए.

स्थानीय लोगों ने विरोध स्वरूप जंजैहली में रोष रैली निकाली और जहां एसडीएम बैठे हुए थे उस कार्यालय का घेराव भी किया. सीएम जयराम ठाकुर के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. सीएम मुर्दाबाद के नारों के साथ ही चोर शब्द का भी इस्तेमाल किया गया. हालांकि, मंगलवार को जंजैहली में काफी बर्फ गिरी हुई थी लेकिन लोग इस कड़कड़ाती ठंड में भी सड़कों पर उतरकर आंदोलन करने से बाज नहीं आए.

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि सरकार ने राजनीति करके एसडीएम कार्यालय को जंजैहली से थुनाग शिफ्ट किया है और इस बात का तब तक विरोध जारी रहेगा जब तक सरकार इनकी मांग को मानते हुए एसडीएम जंजैहली के कार्यालय को यथावत नहीं रखेगी. प्रदर्शनकारियों का कहना है कि लोगों के सड़कों पर उतरते ही सीएम जयराम ठाकुर का बुरा वक्त शुरू हो गया है और भविष्य में इसके दूरगामी परिणाम भुगतने होंगे.

डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर ने बताया कि मंगलवार को जंजैहली में शांतिपूर्वक प्रदर्शन हुआ है. मंगलवार को धारा 144 भी हटा दी गई है. उन्होंने बताया कि सरकार की अधिसूचना के बाद एसडीएम थुनाग के कार्यालय ने कार्य करना शुरू कर दिया है.

Add your comment

Your email address will not be published.