अंबानी 20 दिन तक उठा सकते हैं सरकार का खर्च, पढ़िए दूसरे धनकुबेर और देशों का हाल

खबरें अभी तक. क्या हो अगर किसी देश के सबसे अमीर व्यक्ति को उस देश की सरकार का सारा खर्च उठाना पड़े? कितने दिन तक दुनियाभर के धनकुबेर अपने देश की सरकारों का खर्च उठा पाएंगे, यह जानने के लिए ब्लूमबर्ग ने 2018 रॉबिन हुड इंडेक्स बनाया है। इस इंडेक्स में कुल 49 देशों को शामिल किया गया है। इस इंडेक्स को तैयार करने में विभिन्न देशों की अलग अलग तरह की सरकारों, उनके विभिन्न खर्चों और उस देश के सबसे अमीर व्यक्ति को शामिल किया गया है।

इस इंडेक्स में दिसंबर 2017 के अंत में देश के सबसे बड़े व्यक्ति की संपत्ति और उस देश की सरकार को चलाने के लिए किए जाने वाले रोजाना खर्च की तुलना की गई है। आपको बता दें कि 49 में से महज 4 देश ऐसे हैं जहां कि सबसे अमीर शख्सित एक महिला हैं। इनमें अंगोला, ऑस्ट्रेलिया, चिली और नीदरलैंड शामिल हैं।

क्या है इंडेक्स की अवधारणा

इंडेक्स को तैयार करते समय यह माना गया है कि अगर किसी देश की सरकार के पास अगर संसाधन खत्म हो जाएं और उस देश के सबसे अमीर व्यक्ति की सभी सम्पत्तियों को बेचकर वह राशि सरकार को दान दे दी जाए तो यह राशि कितने दिन तक सरकार के दफ्तर और एजेंसियों में काम-काज ठप्प होने या ताला लगने से रोक सकती है। इस इंडेक्स को तैयार करने में दो अहम आंकड़ों का इस्तेमाल किया गया है। पहला ब्लूबर्ग का बिलेनायर्स इंडेक्स और दूसरा सरकार के खर्च पर अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष का अनुमान।

मुकेश अंबानी 20 दिन तक उठा सकते हैं सरकार का खर्च

भारत के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी कुल 20 दिन तक भारत की सरकार का खर्च उठा सकते हैं। आपको बता दें कि अनुमान के मुताबिक भारत सरकार का रोजाना कुल खर्च 198.72 करोड़ डॉलर है। जबकि मुकेश अंबानी की कुल संपत्ति 4030 करोड़ डॉलर की है। जीडीपी की तुलना में भारत सरकार का खर्च 27.3 फीसद के बराबर है।

Add your comment

Your email address will not be published.